अटकी हुई थी सांसे, चरम पर था रोमांच, भयंकर कॉन्फिडेंट थे हार्दिक पंड्या, फिनिशिंग सिक्स से पहले तेवर तो देखिए

अटकी हुई थी सांसे, चरम पर था रोमांच, भयंकर कॉन्फिडेंट थे हार्दिक पंड्या, फिनिशिंग सिक्स से पहले तेवर तो देखिए

6 महीने पहले तक हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) का करियर खत्म माना जा रहा था। लगातार चोट से जूझ रहे हार्दिक गेंदबाजी नहीं कर पा रहे थे। उन्हें जिस मुंबई इंडियंस की खोज कहा जाता है, उसने आईपीएल नीलामी से पहले रिटेन ही नहीं किया। इन सब के बाद हार्दिक ने आईपीएल 2022 में वापसी की। गेंद और बल्ले से कमाल कर टीम को चैंपियन बनाया और उसके बाद से पीछे मुड़कर नहीं देखा है। उनमें गजब का आत्मविश्वास दिख रहा है। पाकिस्तान (IND vs PAK) के खिलाफ एशिया कप (Asia Cup) के मुकाबले में भी यह देखने को मिला।

दबाव में दिखा आत्मविश्वास
भारतीय टीम को आखिरी 4 गेंदों पर जीत के लिए 6 रन चाहिए थे। हार्दिक ने अगली गेंद को कवर की तरफ खेला लेकिन वह सीधे फील्डर के हाथ में चली गई। अब 3 गेंद पर 6 रन चाहिए थे। हर कोई दबाव महसूस कर रहा था। नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े दिनेश कार्तिक ने पंड्या को कुछ कहा। इसके बाद पंड्या ने जो इशारा किया वह उनका आत्मविश्वास दिखाता है। मानों वह इशारे से कह रहे थे कि चिंता न करो मैं हूं ना।

अगली ही गेंद पर हार्दिक पंड्या ने लॉन्ग ऑन के ऊपर से छक्का लगाया और टीम इंडिया को जीत दिला दी। इससे पहले 19वें ओवर में हार्दिक ने हारिस राउफ के खिलाफ तीन चौके लगाए थे। उन्होंने 17 गेंदों पर 33 रनों की पारी खेली। इस पारी में 4 चौके और एक छक्का शामिल था।

हार्दिक पंड्या की विनिंग छक्के के साथ दिनेश कार्तिक उनके सामने नतमस्तक हो गए। रविंद्र जडेजा के आउट होने के बाद दिनेश कार्तिक आखिरी ओवर में बल्लेबाजी करने उतरे थे। उन्होंने एक रन बनाए। टीम मैनेजमेंट ने युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत को बाहर रखकर कार्तिक को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *