fbpx

नोरा ने जैकलीन पर ठोका केस, कहा- ‘मेरा करियर खाना चाहती है’

Editor Editor
Editor Editor
4 Min Read

Nora Fatehi ने साथी एक्टर Jacqueline Fernandez पर मानहानि का मुकदमा ठोक दिया है. ये सारा मामला ठग सुकेश चंद्रशेखर के 200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्डरिंग केस से जुड़ा हुआ है. नोरा का कहना है कि उनका नाम जबरदस्ती कॉनमैन सुकेश के साथ जोड़ा गया. नोरा का कहना है कि इस केस में उनका नाम घसीटने से उनकी छवि को नुकसान पहुंचा है. इसलिए उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट में जैकलीन और 15 मीडिया संस्थानों के खिलाफ डिफेमेशन केस कर दिया है.

नोरा ने इस केस में एक्टर जैकलीन फर्नांडिस को आरोपी नंबर 1 बनाया है. उनकी तरफ से दायर किए पीटिशन में कहा गया कि जैकलीन उनकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के मक़सद से उनका नाम इस मामले में घसीट रही हैं. जिससे नोरा फतेही को काम न मिले. क्योंकि जैकलीन फेयर तरीके से इंडस्ट्री में उनका सामना नहीं कर पा रही हैं. नोरा का कहना है कि जैकलीन ने जो कुछ भी कहा, उसे 15 मीडिया संस्थानों ने आगे बढ़ाया और फैलाया है. इसलिए वो भी इसके आरोपी हुए.

नोरा के उस पीटिशन में ये भी कहा गया कि दोनों आरोपी (जैकलीन और 15 मीडिया हाउस) उनके खिलाफ मिलकर काम कर रहे थे. वो इस साज़िश के तहत नोरा को आर्थिक, सामानजिक और निजी तौर पर नुकसान पहुंचाना चाहते थे.

200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्डरिंग केस में जैकलीन फर्नांडिस से ED ने पूछताछ की. इसमें नोरा का नाम भी सामने आया. कहा गया कि नोरा ने भी सुकेश से महंगे तोहफे लिए हैं. मगर नोरा का कहना है कि वो सुकेश से कभी नहीं मिली. वो उसे उसकी पत्नी मारिया पॉल के थ्रू जानती हैं. हालांकि एक बार उन दोनों की फोन पर बात हुई थी. मारिया ने नोरा से कहा था कि सुकेश उनका बड़ा फैन है. सुकेश, नोरा को BMW कार गिफ्ट करना चाहता था. नोरा ने कहा कि उनके पास कार है. वो इन सब के बारे में उनके जीजा बॉबी से बात करे. नोरा ने बॉबी को भी कार लेने से मना किया था. बॉबी ने ये बात सुकेश को बताई, तो सुकेश ने वो कार नोरा की बजाय बॉबी को गिफ्ट कर दी. उस कार की कीमत 65 लाख रुपए बताई जा रही है.

दूसरी तरफ दिल्ली हाई कोर्ट ने सोमवार को 200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्डरिंग केस की सुनवाई एक हफ्ते के लिए स्थगित कर दी. स्पेशल जज शैलेंद्र मलिक ने कहा वो इस मामले की सुनवाई 20 दिसंबर को करेंगे. क्योंकि जैकलीन के वकीलों ने कहा कि उन्हें चार्जशीट की कॉपी और एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट की तरफ से कई अन्य डॉक्यूमेंट नहीं मिले हैं. ED इस मामले में जैकलीन से कई बार पूछताछ कर चुका है. केस की सुनवाई के दौरान कुछ देर के लिए जैकलीन भी कोर्ट पहुंची थीं. 15 नवंबर को जैकलीन को इस मामले में रेलुगर बेल दे दी. उन्हें इस केस में गिरफ्तार नहीं किया गया था.

इस केस में अब तक सुकेश चंद्रशेखर और मारिया पॉल समेत कुल 13 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. ED को शक है कि सुकेश ने जेल में रहने के दौरान कई लोगों से पैसे ठगे.

Share This Article