16 साल की उम्र में घरवालों से लड़ाई कर आ गयी थी दिल्ली, आज है 100 करोड़ की एकलौती मालकिन

16 साल की उम्र में घरवालों से लड़ाई कर आ गयी थी दिल्ली, आज है 100 करोड़ की एकलौती मालकिन

कंगना रनौत बॉलीवुड इंडस्ट्री में अपनी एक्टिंग और सुपरहिट फिल्मों के चलते भी खूब सुर्खियां बटोरती हैं. कंगना रनौत के लिए यह मुकाम हासिल करना आसान बिल्कुल भी नहीं था. क्योंकि वह एक ऐसे घर है जहां फिल्मी दुनिया में महिलाओं के काम करने पर रोक लगा दी जाती थी. वहीं बॉलीवुड में भी कंगना का कोई गॉडफादर नहीं था. तो आइए बात करते हैं कंगना रनौत की संघर्षपूर्ण जिंदगी से सफल एक्ट्रेस बनने तक कि कहानी के बारे में.

12वीं कक्षा में फेल हो गई थी अभिनेत्री
इंटरव्यू में कंगना अक्सर अपनी स्ट्रगलिंग लाइफ के बारे में बात करती नजर आती हैं. एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने खुद बताया था कि उनके माता-पिता चाहते थे कि वह पढ़ाई कर के एक डॉक्टर बने. मगर वह 12वीं कक्षा में ही फेल हो गई थी. जिससे उनके पिता उनसे बहुत ज्यादा नाराज हो गए थे. तब उन्होंने अपने घरवालों से लड़ाई की और झगड़ने के बाद वो गुस्से में दिल्ली आ गईं. जहां उन्होंने सिर्फ 16 साल की उम्र में मॉडलिंग शुरू कर दी थी.

किसी वक्त नहीं होते थे खाने के भी पैसे
परिवार वालो से लड़कर दिल्ली आई कंगना को करियर बनाने के लिए बहुत ज्यादा संघर्ष करना पड़ा. वह बताती हैं कि जब वह काफी संघर्ष कर रही थीं तब उनके पास खाने तक के भी पैसे नहीं थे. अक्सर ऐसा होता था कि वह अपना पूरा दिन सिर्फ ब्रेड या फिर रोटी के साथ अचार खाकर ही गुजार देती थी और उनके पिता ने भी उन्हें पैसे भेजना बंद कर दिया था. जिसके बाद उनको आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ा.

इस तरह मिली थी पहली फिल्म
कंगना के करियर का सबसे बड़ा पल तब आया जब वह एक कैफे में कॉफी पी रही थीं. यह वर्ष 2005 की बात है जब कंगना एक कैफे में बैठकर कॉफी पी रही थीं. वहीं, मशहूर फिल्म निर्माता अनुराग बसु भी थे. उनकी नजर खूबसूरत कंगना पर पड़ी. जिसके बाद वर्ष 2006 में कंगना ने फिल्म गैंगस्टर से बॉलीवुड में डेब्यू करा और उन्हें बेस्ट डेब्यू के अवॉर्ड से भी नवाजा गया था.

चार बार मिल चूका है राष्ट्रीय पुरस्कार
कंगना रनौत एक ऐसी लौती एक्ट्रेस हैं. कंगना रनौत की फिल्मों के लिए किसी बड़े हीरो की जरूरत बिलकुल भी नहीं होती है. वह बिना हीरो के ही फिल्म अपनी फिल्म को सुपरहिट बना देती हैं जिसके लिए उन्हें एक बार नहीं बल्कि 4 बार राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा जा चुका है. फिल्म ‘तनु वेड्स मनु रिर्टन’, ‘फैशन’, ‘क्वीन’, और ‘मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी’ और ‘पंगा’ ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार कंगना रनौत जीत चुकी है.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *