छत्तीसगढ़ में मिला दुनिया का सबसे निडर जीव: इंसानों की तरह सोचता है और महसूस करता है, जानें इसके बारे में

छत्तीसगढ़ में मिला दुनिया का सबसे निडर जीव: इंसानों की तरह सोचता है और महसूस करता है, जानें इसके बारे में

कभी -कभी अचानक ऐसे जीव दिख जाते हैं,जिन्हे आपने कभी नहीं देखा होता है। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के कांकेर जिले में ऐसा ही एक जीव देखकर लोग रोमांचित हो उठे। मिली जानकारी के मुताबिक जंगलो से घिरे कांकेर शहर के दुधावा वन परिक्षेत्र में दुनिया का सबसे निडर जानवर दिखाई दिया है।ज्ञात हो कि कि हनी बेजर के बेहद बड़े नाखून और दांत होते हैं, इस कारण से किसी भी जानवर को इससे लड़ने की हिम्मत नहीं होती है।

सड़क के किनारे घूम रहा था जीव बताया जा रहा है कि इस दुर्लभ जीव का नाम हनी बेजर है। इस जीव को ग्राम कोटलभट्ठी के ग्रामीणों ने सड़क किनारे घूमते हुए देखा, तो अचम्भित हो गए। गांव वालों से ऐसा जीव पहले कभी नहीं देखा था,इसलिए फ़ौरन इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। वन विभाग ने इस जीव को तत्काल कब्जे में लेकर उसे संरक्षित किया। बताया जा रहा है कि हनी बेजार नाम का यह जीव दुनिया का सबसे निर्भीक प्राणी माना जाता है। कांकेर का कोटलभट्टी के वनों का क्षेत्र कांकेर, कोंडागांव और धमतरी जिला के भीतर आता है। इस इलाके के समीप सीतानदी अभ्यारण्य है।माना जा रहा है कि हनी बेजर वहीं से भटकते हुए पहुंचा होगा।

पहली बार दिखा हनी बेजर कांकेर घने जंगलो से घिरा हुआ है। इस क्षेत्र में कई प्रकार के वन्य जीव पाए जाते हैं,लेकिन इस बार अनुभव नया था। कांकेर के वन कर्मियों का कहना है कि हनी बेजर को पहली दफा देखा गया है। बिज्जू की प्रजाति वाले इस जीव की तादाद डेढ़ दशक में काफी गति से कम होने लगीं है,जिस वजह से इसे विलुप्त वन्यजीवों की श्रेणी में रखा गया है। वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक हनी बेजर मस्टेलिडाए कुल और मेलिवोरा प्रजाति का जीव है। लोग खाल ,फर का उपयोग कॉस्मेटिक निर्माण के लिए करते है।

शेर से भी भिड़ जाता है , इंसानों की तरह सोचता है गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में हनी बेजर को मोस्ट फियरलेस क्रीचर के नाम से पहचान दी गई है। यह जीव खूंखार, निर्भीक होने के साथ बेहद बुद्धिमान और चालाक होता है। बताया जाता है कि अगर इस जीव को किसी कमरे में बंद कर दिया जाये,तो यह दरवाजे की कुंडी खोल सकता है। यह पत्थर, मिट्टी या डंडे की मदद से दीवार पर चढ़कर भाग जाता है। इसके अलावा यह जीव जमीन में गड्ढा करके सुरंग बनाना भी जानता है। खुद को असुरक्षित महसूस करने पर हालातों को समझता है और फिर योजना तैयार करके भाग निकलता है। बताते है कि यह जीव इतना समझदार है कि बिल्कुल इंसानों की तरह सोच सकता है।

नहीं बनता अपना घर, लोमड़ी के घर में करता है कब्ज़ा हनी बेजर जंगल में लगातार विचरण करने वाला जानवर है, यह कभी अपना घर नहीं बनाता। बताया जाता है कि यह लोमड़ी और गीदड़ों के ठिकानों पर कब्जा जमा लेता है। अपने धार वाले और लंबे नाखून का उपयोग करके यह यह शिकार करता है और 30 फीट गहरी सुरंग को बड़े आराम से खोद सकता है। शिकार के लिए हमेशा यह रात को निकलता है। इसकी औसत आयु 15 से 20 वर्ष होती है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *