fbpx

3000 करोड़ में बनी ‘अवतार 2’ के वीएफएक्स आर्टिस्ट ने की शिकायत, कंपनी ने सैलरी में चिल्लर दिए

Editor Editor
Editor Editor
4 Min Read

3000 करोड़ में बनी ‘अवतार 2’ के वीएफएक्स आर्टिस्ट ने की शिकायत, कंपनी ने सैलरी में चिल्लर दिएAvatar- The Way Of Water रिलीज़ के लिए तैयार बैठी है. James Cameron डायरेक्टेड इस फिल्म की खासियत इसका विज़ुअली अपीलिंग होना है. विज़ुअल्स को सुंदर बनाने के लिए ढेर सारे VFX और स्पेशल इफेक्ट्स का इस्तेमाल किया गया है. इस फिल्म के स्पेशल इफेक्ट्स पर जिस कंपनी ने काम किया है, उसके एक कर्मचारी ने उनके पैसे काटने की शिकायत की है.

‘अवतार 2’ के स्पेशल इफेक्ट्स पर Wētā Workshop नाम की कंपनी ने काम किया है. ये कंपनी न्यूज़ीलैंड में बेस्ड है. बहरहाल, एक फिल्ममेकर हैं David F. Sandberg. ‘लाइट्स आउट’, ‘अनाबेल- क्रिएशन’ और ‘शज़ैम’ जैसी फिल्में बना चुके हैं. उन्होंने ‘अवतार- द वे ऑफ वाटर’ के एक सीन के मेकिंग पर वीडियो बनाया. इस वीडियो में वो बता रहे हैं कि फिल्म का एक चर्चित सीन कैसे बनाया गया. उसका एक क्लिप उन्होंने ट्विटर पर पोस्ट किया. उनके इस ट्वीट पर लोगन प्रेशॉ नाम के एक VFX आर्टिस्ट ने जवाबी ट्वीट किया. लोगन ने कहा कि उन्हें गर्व है कि उन्हें ‘अवतार 2’ जैसी फिल्म पर काम करने का मौका मिला. मगर वो इस फिल्म का स्पेशल इफेक्ट्स करने वाली कंपनी से खफा हैं. क्योंकि उन्होंने मार्केट रेट से भी कम पैसे दिए.

”मैंने ‘अवतार 2’ पर काम किया. इस बात पर मुझे गर्व है. मगर मुझे इस बात से शिकायत है कि वीटा वर्कशॉप अपने आर्टिस्ट को कितने कम पैसे देती है. एक कॉन्सेप्ट आर्टिस्ट के तौर पर मुझे बेहद कम पैसे दिए गए. जब मैं एक एनिमेटेड कार्टून शो का लीड था, उससे भी 10 डॉलर प्रति घंटे से कम. बहुत सारे प्रैक्टिकल आर्टिस्ट लोगों को इसी तरह से पे किया गया.
अगर आपके पास इस प्रॉप के लिए पैसे हैं, तो आपको अपने आर्टिस्ट्स को भी ढंग से पैसे देने चाहिए. वीटा वर्कशॉप दुनियाभर में प्रचलित नाम है. ‘अवतार 2’ मल्टी-मिलियन डॉलर फिल्म है. बावजूद इसके बहुत सारे आर्टिस्ट लोगों को किसी छोटे स्टाफ जितना पेमेंट किया गया. जो कि इंडस्ट्री स्टैंडर्ड के लिहाज से बहुत कम है.”

‘अवतार 2’ को 3000 करोड़ रुपए से ऊपर बजट में बनाया गया है. लोगन इसी को लेकर शिकायत कर रहे हैं. उन्होंने एक के बाद एक किए ट्वीट्स में कहा कि उन्हें 21 न्यूज़ीलैंड डॉलर्स प्रति घंटे की तनख्वाह मिलती थी. जो कि अमरीकी करंसी में 13 डॉलर (1070 रुपए) के आसपास बनता है. उसमें भी एक घंटे के पैसे काट लिए जाते थे. लोगन बताते हैं कि जब उन्होंने अपना पिछला काम और उसकी सैलरी बताई, तब वीटा वर्कशॉप ने उनकी सैलरी 21 डॉलर से बढ़ाकर 23 डॉलर कर दी. तीन महीने तक वहां काम करने के बाद लोगन प्रेशॉ ने वीटा वर्कशॉप छोड़ दिया. हालांकि उन्होंने ये सारे आरोप सिर्फ वीटा वर्कशॉप नाम की स्पेशल इफेक्ट्स कंपनी पर लगाए हैं. उन्होंने जेम्स कैमरन या फिल्म की प्रोडक्शन कंपनी 20th सेंचुरी फॉक्स को कुछ नहीं कहा.

लोगन प्रेशॉ के इस बयान पर स्पेशल इफेक्ट्स कंपनी ने अब तक कोई जवाब नहीं दिया है. ‘अवतार 2’ 16 दिसंबर, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज़ होने जा रही है. इस फिल्म में सैम वर्थिंगटन, ज़ोई सल्डाना, सिगोर्नी वीवर, स्टीवन लैंग और केट विंसलेट ने लीड रोल्स किए हैं.

Share This Article