दुनिया के बेस्ट स्कूल में चुना गया भारत का ये स्कूल, 2 करोड़ रुपए की मिलेगी प्राइज मनी

दुनिया के बेस्ट स्कूल में चुना गया भारत का ये स्कूल, 2 करोड़ रुपए की मिलेगी प्राइज मनी

भारत में सरकारी और प्राइवेट दोनों प्रकार के स्कूल मौजूद हैं, जहाँ करोड़ों की संख्या में छात्रा शिक्षा प्राप्त करते हैं। ऐसे में कई लोगों को लगता है कि भारत में अच्छे स्कूल मौजूद नहीं है, जिसकी वजह से वह अपने बच्चों को विदेशों में पढ़ाना पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हाल ही में दुनिया के सबसे अच्छे स्कूलों की लिस्ट में भारतीय स्कूल का नाम भी शामिल किया गया है।

वर्ल्ड बेस्ट इंडियन स्कूल (World Best Indian School)
दुनिया के सबसे बेहतरीन स्कूल की लिस्ट में भारतीय स्कूल का नाम शामिल किया गया है, जो महाराष्ट्र के पुणे शहर के भोपखेल में मौजूद है। वर्ल्ड बेस्ट स्कूल के रूप मेंपीसीएमसी इंग्लिश मीडियम नामक स्कूल (Pcmc English Medium School)को चुना गया है, जो विश्व के तीन बेस्ट स्कूल की फाइन लिस्ट में शामिल हुआ है और उसे प्राइज मनी के रूप में 2.5 लाख डॉलर यानी 2 करोड़ रुपए मिलेंगे।इसे भी पढ़ें –मुस्लिम दंपति ने तिरुपति मंदिर में दान किए 1.02 करोड़ रुपए, भगवान वेंकेटश्वर के प्रति रखते हैं विशेष आस्था आपको बता दें कि दुनिया के सबसे अच्छे स्कूलों का चुनाव ब्रिटेन की डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म T4 एजुकेशन द्वारा किया गया था, जिसने साल 2022 में वर्ल्ड बेस्ट स्कूल प्राइज नामक प्रोग्राम की शुरुआत की है। इस प्रोग्राम का मकसद दुनिया भर के स्कूलों को सही दिशा में आगे बढ़ाना है, ताकि बच्चों का भविष्य बेहतर हो सके।

पीसीएमसी इंग्लिश मीडियम स्कूल में छात्रों को अच्छी सुविधा दी जाती है, जिसकी वजह से इसका नाम वर्ल्ड बेस्ट थ्री स्कूल की लिस्ट में शामिल हुआ है। इस स्कूल को एनजीओ आकांक्षा फाउंडेशन और स्थानीय सरकार द्वारा संचालित किया जाता है, जहाँ कम आय वाले परिवार से ताल्लुक रखने वाल बच्चे पढ़ते हैं।

ऐसे में एक सरकारी स्कूल का नाम दुनिया के सबसे अच्छे स्कूलों की लिस्ट में शामिल होना बहुत बड़ी बात है, जिसकी वजह से पीसीएमसी इंग्लिश मीडियम स्कूल को वर्ल्ड एजुकेशन वीक के अगले समारोह में सम्मानित किया जाएगा।

इस स्कूल में फ्री मेडिकल चेकअप प्रोग्राम के तहत बच्चों का मुफ्त में चेकअप किया जाता है, जबकि स्कूल में मास्टर शेफ स्टाइल की क्लास दी जाती हैं। इस प्रोग्राम के तहत बच्चों के साथ-साथ उनके माता-पिता को संतुलित और पौष्टिक भोजन बनाने की तकनीक सिखाई जाती है, जबकि बच्चों को स्कूल में रोजाना एक फल दिया जाता है।इसे भी पढ़ें –ट्रैफिक वाला इश्कः जाम में फंसे शख्स को यूं मिली अपनी लाइफ पार्टनर, बेहद मजेदार है लव स्टोरी
2022 में नवीनतम हेयर ट्रांसप्लांट की कीमत इस प्रकार है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *