fbpx

गोलियों और बम धमाकों के बीच बड़ा हुआ ये क्रिकेटर, गरीब परिवार को एक झटके में बना दिया करोड़पति

admin
admin
4 Min Read

किस्मत, मेहनत और लगन, ये तीन ऐसी चीजें हैं जो एक इंसान को बुलंदियों की ऊंचाइयों तक ले जाती है। वह उनके दम पर दुनिया में कुछ भी हासिल कर सकता है। अब अफगानी क्रिकेटर राशिद खान (Rashid Khan) को ही देख लीजिए। आज उनका नाम सिर्फ अफ़ग़ानिस्तान में ही नहीं बल्कि दुनियाभर में फेमस है। वह कई लोगों के रोल मॉडल है। लेकिन उनका यहां तक का सफर इतना आसान नहीं था।

बम धमाकों के बीच गुजरा बचपन

yifl

राशिद खान का बचपन गोलियों और बम धमाकों की आवज के बीच बीता है। वह 1998 में अफगानिस्तान के नांगरहार में पैदा हुए थे। उनके परिवार में कुल दस भाई बहन हैं। उनकी फैमिली जलालाबाद की रहने वाली है। खान जब छोटे थे तब अफगानिस्तान में गृहयुद्ध चल रहा था। ऐसा में उनके परिवार को देश से पलायन कर पाकिस्तान में शरण लेनी पड़ी।

tikl

पाकिस्तान में खान का परिवार कुछ साल रहा, फिर जब गृहयुद्ध समाप्त हुआ तब वह फिर से अफगानिस्तान वापस आ गया। कुछ साल रिफ़्यूजी की तरह बचपन बिताने के बाद आखिर उनकी सामान्य जिंदगी शुरू हुई। उन्होंने अपनी स्कूलिंग की। उन्हें क्रिकेट खेलने का शौक बचपन से हुआ करता था। वह विराट कोहली और शाहिद अफरीदी के बड़े फैन हैं। यहां तक कि उनका बॉलिंग स्टाइल शाहिद अफरीदी से कॉपी लगता है।

iyl

ऐसे गरीब क्रिकेटर बना करोड़पति

yrku

रशीद खान अपने पांच बड़े भाइयों के साथ अक्सर क्रिकेट खेला करते थे। भाइयों संग खेलते समय वह प्रेशर में रहते थे। इसके चलते वह प्रेशर हैंडल करना अच्छे से सीख गए हैं। खान की आर्थिक स्थिति हमेशा से ठीक नहीं थी। अफगानिस्तान जैसे गरीब देश का क्रिकेटर होने के चलते वे इतने भी अमीर नहीं थे। लेकिन 2017 के आईपीएल ऑक्शन ने ये सब बदल दिया।

gtduk

2017 में जब IPL ऑक्शन हुआ तो उन्हें 4 करोड़ रुपए में खरीदा गया। फिर IPL 2018 के ऑक्शन में उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद ने 9 करोड़ रुपए में खरीद लिया। इस तरह रशीद एक पल में करोड़पति बन गए। उन्हें इस बात पर यकीन नहीं हुआ। ये सिलसिला फिर यूं ही चलता रहा। जैसे साल 2022 में गुजरात टाइंटस ने उन्हें 15 करोड़ में खरीदा।

दर्ज हैं कई रिकॉर्ड

iyl

राशिद अपने नाम कई दिलचस्प रिकॉर्ड भी कर चुके हैं। जैसे महज 19 साल की उम्र में वह अपने देश की टीम के कप्तान बन गए थे। इस तरह उनके नाम सबसे कम उम्र (19 साल 159 दिन) में कप्तान बनने का रिकॉर्ड है। पहले ये रिकॉर्ड बरमूडा के रोडनी ट्रॉट (20 साल 332 दिन) के पास हुआ करता था।

fuky

इसके अलावा राशिद वनडे रैंकिंग में सबसे कम उम्र में नंबर वन बॉलर बनने का रिकॉर्ड भी हासिल कर चुके हैं। इतना ही नहीं उनके पास वनडे में सबसे तेज़ 100 विकेट हासिल करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है। रशीद वर्तमान में 24 साल के हैं। वह आज भी खैल के मैदान में बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

yfik

Share This Article