fbpx

आसान नहीं था दिलीप जोशी से जेठालाल तक का सफर, जेठालाल आज टीवी जगत के सुपरस्टार है…

admin
admin
6 Min Read

लाइव हिंदी खबर :- टीवी का सबसे पॉपुलर शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा सुपरहिट कॉमेडी शो में से एक है। शो के हर किरदार को लोग खूब पसंद कर रहे हैं। पिछले 13 सालों से लोगों के दिलों पर राज करने वाले शो के मुख्य किरदार जेठालाल को उनकी एक्टिंग के चलते घर-घर जाना जाता है। इस शो की वजह से दिलीप जोशी को एक घरेलु नाम मिल गया है। हर उम्र के लोग उनकी कॉमेडी को पसंद करते है।

yicgt

लेकिन क्या आप जानते हैं कि ‘जेठालाल’ यानी दिलीप जोशी की जिंदगी में एक वक्त ऐसा भी आया था जब उनके पास करने को कुछ नहीं था। इसका खुलासा उन्होंने खुद किया है। दिलीप जोशी का ये वीडियो एक बार फिर वायरल हो गया है। इस वीडियो में वो तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो के पहले की बात कर रहे है। इस शो से पहले उनका ख़राब वक्त चल रहा था।

iuft

दिलीप जोशी का जन्म 26 मई 1968 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। आज वह 53 साल के है। वह 12 साल की उम्र से थिएटर में काम कर रहे हैं। उनके करियर की शुरुआत 1989 में हुई थी। उन्होंने फिल्मों में अपना करियर 1989 की फिल्म “मैंने प्यार किया” में एक छोटे से कार्यकाल के साथ शुरू किया, जिसमें उन्होंने सलमान खान के घर में एक नौकर की भूमिका निभाई। इसके अलावा उन्होंने कई फिल्मों में काम किया है और साथ ही छोटे पर्दे यानी टीवी जगत में भी काम करना शुरू किया।

hoy8f

‘जेठालाल’ यानी दिलीप जोशी की जबरदस्त फैन फॉलोइंग है। दिलीप एक बेहतरीन अभिनेता हैं। सुख-दुख सभी के जीवन में आते हैं। उनके जीवन में भी एक दुखद समय था। एक समय ऐसा भी आया जब उसके पास नौकरी नहीं थी। यह समय कोई छोटा नहीं बल्कि डेढ़ साल का था। तारक मेहता का उल्टा चश्मा में आने से पहले उन्होंने कई फिल्मों और टीवी शो में काम किया है। लेकिन फिर एक समय ऐसा आया जब उनके पास डेढ़ साल से नौकरी नहीं थी। उन्होंने ये बात अपने एक इंटरव्यू बताई थी।

ityd7

एक इंटरव्यू में दिलीप जोशी ने अपने जीवन के संघर्षों के बारे में कहा, “जब असित मोदी ने उनसे कहा कि वह एक शो बना रहे हैं, तो मैं यह सुनकर बहुत उत्साहित था। मुझे सबसे पहले असित ने जेठालाल या उनके पिता चंपकलाल की भूमिका की ऑफर दी गई थी। लेकिन उनको अंत में जेठालाल की भूमिका के लिए सेलेक्ट किया गया।”

jfys

उन्होंने इसके बारे में बात करते हुए कहा की, “मैंने दोनों भूमिकाओं के बारे में सोचा और जेठालाल की भूमिका करने का सोचा। क्योंकि जेठालाल, जो मूल रूप से एक कैरिकेचर था, पतला था और चार्ली जैसी मूंछों वाला था। और मैं वह बिल्कुल नहीं था। फिर मैंने कहा, मैं जेठालाल की भूमिका निभाने की कोशिश कर सकता हूं।” इस तरह हमें जेठालाल के रूप में दिलीप जोशी मिले।

iugv

इस इंटरव्यू में दिलीप जोशी ने अपने स्ट्रगल टाइम के बारे में बात की – “यह रेखा इतनी असुरक्षित है, हाँ, ऐसा नहीं है कि आप आज हिट होने जा रहे हैं,” उन्होंने कहा। जेठालाल का किरदार निभाने से पहले मेरे पास डेढ़ साल तक कोई काम नहीं था। जिस सीरियल में मैं काम कर रहा था वह बंद हो गया। और नाटक भी समाप्त हो गया। मेरे पास डेढ़ साल से कोई काम नहीं था। वह मेरे जीवन का सबसे कठिन समय था। उस समय मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं इस उम्र में क्या कर सकता हूं। लेकिन भगवान की कृपा से मुझे यह सीरियल मिला है।”

tyidcg

दिलीप जोशी यानी जेठालाल की ये बात हमें शिख देती है की अपने स्ट्रगल के समय पर धैर्य बना कर रखे। सभी के जीवन में बुरा वक्त आता है जो इस बुरे समय में धैर्य से काम लेता है और अपने अच्छे वक्त में विनम्र बना रहता है वही जीवन में कुछ अलग और खास कर सकता है। तो सभी लोग अपने जीवन में धैर्य बना कर रखे और अपने अच्छे वक्त के लिए प्रयास करते रहे।

uicf

दिलीप जोशी आज अपनी पत्नी और दो बच्चों समेत अपने परिवार के साथ मुंबई में रहते हैं। उनका मूल गांव गुजरात के पोरबंदर से 10 किमी दूर गोसा गांव है। दिलीप जोशी ने 12 साल की उम्र में थिएटर में काम करना शुरू कर दिया था, उन्हें अपने करियर में पहली बार एक नाटक में एक मूर्ति में अभिनय करना पड़ा था। उन्होंने खुद एक साक्षात्कार में कहा था कि उन्होंने अपने जीवन के पहले नाटक में 5-7 मिनट के लिए एक मूर्ति का अभिनय किया था। 53 साल के दिलीप जोशी की पत्नी का नाम जयमाला जोशी है। उन दोनों की एक बेटी “नियती” और एक बेटा “ऋतिक” है। इस जोड़े की शादी को 20 साल से ज्यादा हो चुके हैं।

Share This Article