fbpx

इस शहर के रचित अग्रवाल को बड़ा जॉब ऑफर मिल गया, 1 दिन की सैलरी एक लाख 66 हजार रुपये होगी

Editor Editor
Editor Editor
5 Min Read

जहां सालो साल पढ़ाई करने के बाद भी लोगो को मनचाही नौकरी नहीं मिलती। वहा किसी स्टूडेंट को एक दिन का 66 हजार रूपए मिले तो आश्चर्य तो होगा ही। आज यंग जनरेशन के लड़के व लडकी को जॉब मिलने में दिक्कत हो रही है। अगर मिल भी जाए तो वे उससे संतुष्ट नहीं होते।

वही एक छात्र ऐसा भी है, जिसे महीने का 50 लाख रुपए सैलरी पैकेज ऑफर दिया गया है। खुशी की बात तो ये है की वह राजस्थान कोटा (Kota) का रहने वाला है, कोटा राजस्थान (Rajasthan) ने एक से बड़कर एक होनहार छात्र दिए हैं। जिन्होंने भारत देश का नाम विदेशो में भी बढ़ाया है।
रचित अग्रवाल एक ऐसा नाम जिसने राजस्थान कोटा का नाम विदेश में रौशन किया

आज भारत के युवा पढ़ाई करने देश-विदेश में जाते हैं। उन्ही छात्रों में से एक है रचित अग्रवाल (Rachit Agarwal)। जिसने अपनी हाई एजुकेशन कोटा, राजस्थान से की फिर उसके बाद अमेरिका चले गए अपनी आगे की एजुकेशन के लिए। रचित अग्रवाल के पिता का नाम राजेश अग्रवाल और माता का नाम संगीता है।

रचित के पापा राजेश अग्रवाल फूड पेकेजिंग कंपनी (Food Packaging Company) को चलाने का काम करते हैं, वे एक व्यापारी है। रचित अग्रवाल कोटा राजस्थान के शक्ति नगर में रहने वाले छात्र है। उनकी इस कामयाबी से राजस्थान कोटा का एक बार फिर से नाम आगे बढ़ गया है। राजस्थान के कोटा जिले से और भी कई युवा पढ़ाई करके अच्छे अच्छे जॉब पर काम कर रहे हैं।

50 लाख रूपये महिने जॉब का मिला ऑफर
हमारे भारत में टेलेंटेड लोगो की कमी नहीं है। लेकिन हर किसी का लक इतना अच्छा नहीं होता की इतनी कम उम्र में इतना अच्छा सेलरी पैकेज मिले। अभी मात्र 21 साल के है रचित अग्रवाल। हाई स्कूल की पढाई करने के बाद इंजीनियरिंग करने के लिए रचित अमेरिका चले गए थे।

Success Presentation Imageइंजीनियरिंग करते टाइम ही उन्होने US जाने के बारे में सोच लिया था। जिसके लिए उन्होंने स्कॉलर शिप का एग्जाम दिया और उन्हें सालाना 2 करोड रूपए की स्कॉलर शिप मिली। 2 करोड़ की स्कॉलर शिप से आगे की एजुकेशन टेक्सस विश्व विद्यालयों मे कि जो US के आर्लिंगटन शहर में स्थित है।

4 साल पढ़ाई करने के साथ कई कम्पनियों में किया इंटर्नशिप
अमेरिका में 4 साल पढ़ाई करने के दौरान रचित ने कई कंपनियों में बतौर इंटर्न जॉब किया और कई कॉडिंग Comptition भी जीते। इंटर्नशिप करने की वजह से उन्हें जॉब मिलने में आसानी हुई। रचित अग्रवाल को इंटर्नशिप के दौरान ही जॉब मिलने लगे थे। किन्तु रचित को एक ऐसी जॉब की तलाश थी, जिसमें उन्हें एक अच्छा पैकेज मिले।

जिसकी उन्होने उम्मीद की उन्हे US की एक बड़ी कंपनी ने जॉब ऑफर किया गया। जिसमें सालाना कमाई 8 लाख डालर है। लगभग इण्डियन रूपीस में 6 करोड़ रूपये (6 Crore Ru)। अगर इसे मंथली इनकम में बाटे तो 50 लाख रुपए महीने का होता है। 50 लाख रूपये जहा सालो कमाने में निकल जाते है, वहा रचित को एक ही महीने में मिलेंगे।

रचित अग्रवाल के हाथो में है ज्वांइनिग लेटर, अगले महीने जायेंगे जॉब पर
रचित अग्रवाल US की कम्पनी के हैड क्वाटर जा चुके हैं। वह अगले महीने से जॉब स्टार्ट करने वाले हैं। वे किस कम्पनी में जॉब (Job) करने वाले है, उसका नाम नहीं बताया जा रहा है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) करने के बाद साफ्टवेयर कोडिंग टीम के तौर पर काम करना रचित के लिए नया अनुभव होगा। घर वाले रचित अग्रवाल की तारीफ करते नहीं थकते।

परिवार वालों से पूछने पर उन्होंने बताया कि किस तरह रचित अपनी पढ़ाई को लेकर चिंतित रहता था और US के सपने देखता था। रचित ने एक सपना देखा और उसे पूरा भी किया। जिससे घर वालो को खुशी मिली तथा साथ ही साथ रिश्तेदार भी रचित की इस तरक्की से खुश हैं।

Share This Article