fbpx

कबाड़ हुआ 84 अरब में बना विशालकाय क्रूज, बिना चले ही एक साल बाद हो जाएगा ध्वस्त

Editor Editor
Editor Editor
3 Min Read

हाल ही में नोएडा (Noida) में बने ट्विन टावर (Twin Towers) को ध्वस्त कर दिया गया. इसके निर्माण में काफी पैसा लगाया गया था. इसे तोड़ने में भी काफी पैसे खर्च हुए. लेकिन अवैध निर्माण बताकर इसे तोड़ दिया गया. ऐसे कई मौके देखने को मिलते हैं जब किसी ईमारत को बड़े बजट के साथ बना तो दिया जाता है लेकिन बाद में उसमें कोई डिफेक्ट निकलता है और इसे तोड़ दिया जाता है. ना सिर्फ ईमारत, बल्कि अन्य कई चीजों के कंस्ट्रक्शन में भी ऐसे मामले देखने को मिलते हैं.

218

हाल ही में नौ हजार पैसेंजर्स की क्षमता वाले एक क्रूज को लेकर भी ऐसा ही कुछ हुआ है. इस क्रूज को बनाने में लगभग 84 अरब की लागत आई थी. लेकिन निर्माण के बाद से अब तक इसे एक बार भी पानी में नहीं उतारा जा सका है. ऐसे में अब खबर आई है कि अगर सालभर में इसे कोई ख़रीददार नहीं मिला और ये पानी में नहीं उतरा तो अगले साल इसे तोड़ दिया जाएगा. यानी इस अरबों की संपत्ति को बचाने के लिए सिर्फ एक साल का समय बचा हुआ है.

220

बंदरगाह पर ही कई लॉक
ग्लोबल ड्रीम शिप को कई सालों से जर्मनी के एक शिपयार्ड में बांधा गया है. इसके बगल में ही ग्लोबल ड्रीम II भी लगी हुई है. रखे-रखे ही इस शिप की हालत खराब हो चुकी है. इसके इंजन उखड़ और अब ये सेल के लायक भी नहीं है. इसमें करीब 9 हजार पैसेजर्स बैठ सकते हैं जो किसी अन्य क्रूज शिप से काफी ज्यादा है. इसे MV Wefrten द्वारा बनाया गया था. ऐसी पनौती ऐसी हुई कि निर्माण के बाद से अब तक इसे पानी में नहीं उतारा जा सका.

219

उत्साह से हुआ था निर्माण
इन दो जहाज़ों का निर्माण काफी उत्साह से हुआ था. इसके बाहरी हिस्से पर खूबसूरत आर्ट उकेरा गया था. साथ ही अंदर नौ हजार लोगों के मनोरंजन के लिए सिनेमा का भी निर्माण किया गया था. सारे पैसेंजर्स के लिए खूबसूरत बेडरुम भी बनाए गए थे. जानकारी के मुताबिक़, हर क्रूज का वजन 2 लाख टन से ऊपर था. इसे बनाने में जितने पैसे लगे, उस लागत पर इसे बायर नहीं मिले. अब जानकारी दी गई है कि अगर सालभर में इसे कोई नहीं खरीदेगा, तो इसे तोड़ दिया जाएगा.

Share This Article