पाकिस्तान में उठी आमिर की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की स्क्रीनिंग की मांग, 3 साल बाद रिलीज होगी कोई भारतीय फिल्म

पाकिस्तान में उठी आमिर की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की स्क्रीनिंग की मांग, 3 साल बाद रिलीज होगी कोई भारतीय फिल्म

आमिर खान (Aamir Khan) की मोस्ट अवेटेडि फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा (Laal Singh Chaddha)’ आखिरकार सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। आमिर की यह फिल्म ‘फॉरेस्ट गंप (Forest Gump)’ का आधिकारिक हिंदी रीमेक है। ‘लाल सिंह चड्ढा’ अपनी रिलीज से पहले ही विवादों में चल रही है। आमिर के पिछले बयानों को लेकर सोशल मीडिया पर इस फिल्म का बहिष्कार करने की मांग उठाई गई थी। अब ‘लाल सिंह चड्ढा’ को लेकर एक नई जानकारी सामने आ रही है। दरअसल एक तरफ जहां मिर खान की फिल्म का भारत में विरोध हो रहा है तो वहीं पाकिस्तान में इस फिल्म को रिलीज करने की मांग उठ रही है।

स्क्रीनिंग की उठी मांग
आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ को लेकर सिनेपैक्स मीडिया ग्रुप ने इंफोर्मेशन मिनिस्ट्री से एनओसी की मांग की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक अगर ‘लाल सिंह चड्ढा’ को एनओसी मिल जाती है तो पाकिस्तान में इस फिल्म को रिलीज किया जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान में साल 2019 के बाद से कोई भी भारतीय फिल्म रिलीज नहीं की गई है, ऐसे में अगर इस आमिर की फिल्म को एनओसी मिल जाएगी तो पड़ोसी देश में तीन साल बाद कोई भारतीय फिल्म रिलीज होगी।

मीडिया से बातचीत में सिनेपैक्स मीडिया ग्रुप के जनरल मैनेजर साद बैग ने कहा, “‘लाल सिंह चड्ढा’ को पाकिस्तान में रिलीज करने के लिए हमने इंफोर्मेशन मिनिस्ट्री से एनओसी के लिए आवेदन पत्र दे दिया है। अगर हमें एनओसी मल गई तो आमिर खान की फिल्म पाकिस्तान में भी रिलीज की जाएगी।”

सीबीएफसी नहीं बदलेगी अपनी पॉलिसी
इस मामले को लेकर पाकिस्तान के सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन की भी रुख साफ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म सर्टिफिकेशन बोर्ड अपनी पॉलिसी नहीं बदलेगा और कोई भी भारतीय फिल्म या फिर भारत में बनी फिल्म पाकिस्तान में रिलीज नहीं होगी।

पुलवामा अटैक के बाद बैन की गई थीं पाकिस्तानी फिल्में
14 फरवरी 2019 में पुलवामा अटैक के बाद भारत और पाकिस्तान में जंग छिड़ते-छिड़ते रह गई थी। इस हमले के बाद दोनों ही देशों के रिश्ते काफी खराब हो गए थे और इसी कारण भारत में पाकिस्तानी एक्टर्स और फिल्मों को बैन कर दिया गया था। बाद में पाकिस्तान ने भी बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद भारतीय फिल्मों पर बैन लगा दिया था।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *