अमेरिका ने मिनटमैन-थ्री मिसाइल का टेस्ट कर दुनिया को दिखाई ताकत, 6,750 किमी दूर टारगेट का किया खात्मा

अमेरिका ने मिनटमैन-थ्री मिसाइल का टेस्ट कर दुनिया को दिखाई ताकत, 6,750 किमी दूर टारगेट का किया खात्मा

वॉशिंगटन:अमेरिका ने मिनटमैन थ्री (Minuteman III) मिसाइल का सफल टेस्ट किया है। ये एक अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल है जो परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है। कैलिफोर्निया में सैंटा बार्बरा कंट्री स्थित वैंडनबर्ग स्पेस फोर्स बेस से इस मिसाइल को टेस्ट किया गया। ये मिसाइल अपने लॉन्च की जगह से 6,750 किमी दूर मार्शल आइलैंड तक गई और टारगेट को हिट किया। अमेरिकी वायुसेना ने बताया कि मिसाइल स्थानीय समय के मुताबिक 12.49 a.m. पर लॉन्च हुई। उन्होंने आगे कहा कि इस मिसाइल टेस्ट से ये दिखाया गया है कि अमेरिका का न्यूक्लियर हथियार तंत्र कितना प्रभावी और सुरक्षित है।

वायु सेना की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, ‘यह टेस्ट लॉन्च रूटीन का हिस्सा है। इसका उद्देश्य ये दिखाना है कि 21वीं सदी के खतरों को रोकने में अमेरिका सक्षम है। इसके साथ हमने अपने सहयोगियों को ये दिखाया है कि अमेरिका के न्यूक्लियर डेटरेंट सुरक्षित, विश्वसनीय और प्रभावी हैं। इस टेस्ट से पहले भी इसी तरह के 300 टेस्ट हो चुके हैं।’ एयरफोर्स ग्लोबल स्ट्राइक कमांड के प्रवक्ता स्टीवन विल्सन ने कहा कि ये लॉन्च मूल रूप से 4 अगस्त को होने वाला था, लेकिन कांग्रेस स्पीकर नैंसी पेलोसी की यात्रा को देखते हुए इस टेस्ट में देरी हुई।

ग्रैंड गेमिंग डे का आज आखिरी दिन, गेमिंग गैजेट पर 50% तक छूट|
हथियार विश्वसनीय और तत्परनैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा के दौरान मिसाइल टेस्ट न करने को अमेरिकी अधिकारी ने एक विवेकपूर्ण कदम बताया। अमेरिका अपने अंतरमहाद्वीपीय हथियार की सटीकता और विश्वसनियता को दिखाने के लिए समय-समय पर टेस्ट करता रहता है। कर्नल क्रिस क्रूज़ ने एक बयान में कहा कि, ‘कोई गलती न करें। हमारा न्यूक्लियर ट्रायड देश और दुनिया भर में हमारे सहयोगियी की राष्ट्रीय सुरक्षा की नींव है।’ यह लॉन्च इस बात का प्रदर्शन है कि हमारे देश के ICBM बेड़े की हाथियार प्रणाली विश्वसनीय और तत्वपर है।

क्या है मिसाइल की खासियतमिनटमैन थ्री मिसाइल को LGM-30 Minuteman के नाम से भी जाना जाता है। ये अमेरिका का जमीन से मार करने वाला एक इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है जो एयरफोर्स ग्लोबल स्ट्राइक कमांड को भी अपनी सेवा देता है। इस तरह की अमेरिका के पास दो और मिसाइल हैं जिन्हें पनडुब्बी और बॉम्बर से लॉन्च किया जा सकता है। अमेरिकी कंपनी बोइंग ने इस मिसाइल को बनाया है। इस मिसाइल के पहले स्टेज का व्यास 1.68 मीटर है और इसकी लंबाई 59.6 फुट है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *