fbpx

Ali Fazal’s Birthday:जब गर्लफ्रेंड को प्रपोज करने गए तो अंगुठी तक नहीं ले कर गए थे, कभी शाहरुख के मन्नत को ताकते हुए बिताते थे समय

admin
admin
6 Min Read

Ali Fazal Love Story:

वह हिंदी सिनेमा के अकेले ऐसे कलाकार हैं, जिन्होंने अपने करियर की शुरुआत हॉलीवुड से की, फिर बॉलीवुड को अपना घर बना लिया. बात हो रही है अली फजल की.

हैंडसम हंक भी ऐसा जो अपने लुक्स और अपनी एक्टिंग की काबिलियत के चलते सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं हॉलीवुड में भी अपनी खास पहचान बना लेगा. इनके फैन्स इन्हें मिर्जापुर के गुड्डू भैया या फिर फुकरे के जाफर के नाम से जानते हैं.

Ali Fazal Unknown Facts:

उनका अंदाज बेमिसाल है, क्योंकि वह अभिनेता एकदम कमाल हैं. वैसे तो उन्होंने तमाम किरदार निभाए हैं, लेकिन दुनिया उन्हें गुड्डू पंडित के नाम से बुलाना ज्यादा पसंद करती है.

बात हो रही है Ali Fazal की, जिन्होंने 15 अक्टूबर 1986 के दिन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जन्म लिया था. बर्थडे स्पेशल में हम आपको अली फजल की जिंदगी के चंद किस्सों से रूबरू करा रहे हैं.

हॉलीवुड से शुरू हुआ करियर

लखनऊ की गलियों में पले-बढ़े अली फजल ने अपनी जिंदगी में तमाम दिक्कतों का सामना भी किया. दरअसल, जब वह 18 साल के थे, उस वक्त उनके पैरेंट्स का तलाक हो गया था.

हालांकि, उन्होंने इन हालात से खुद को निकाला और अपनी अलग पहचान बनाई. अली फजल ने अपने करियर की शुरुआत हॉलीवुड से की थी.

उन्होंने सबसे पहले साल 2008 के दौरान रिलीज हुई इंग्लिश फिल्म ‘द अदर एंड ऑफ द लाइन‘ में कैमियो किया था. इसके बाद वह 2009 में अमेरिकी टीवी मिनी सीरीज ‘बॉलीवुड हीरो‘ में नजर आए.

बॉलीवुड में यूं रखे थे कदम

बॉलीवुड में Ali Fazal ने अपने कदम फिल्म ‘3 इडियट्स‘ से आगे बढ़ाए थे. इस फिल्म में उन्होंने जॉय लोबो नाम के एक इंजीनियरिंग छात्र की भूमिका निभाई, जो कॉलेज में प्रोजेक्ट की डेडलाइन के कारण डिप्रेशन में चला जाता है और सुसाइड कर लेता है.

अली खुद कई इंटरव्यूज में बता चुके हैं कि इस किरदार को निभाने के बाद वह डिप्रेशन में चले गए थे. दरअसल, जब उन्होंने यह किरदार निभाया, उस साल वह खुद अपने कॉलेज में दूसरे साल के स्टूडेंट थे.

इन फिल्मों में भी दिखा चुके दम

फिल्मी करियर की बात करें तो Ali Fazal ने साल 2011 के दौरान ‘ऑलवेज कभी-कभी’ में काम किया. इसके बाद उन्होंने ‘फुकरे’, ‘बात बन गई’, ‘बॉबी जासूस’, ‘फुकरे- रिटर्न्स’ जैसी फिल्मों के जरिए नाम कमाया.

वहीं, वेब सीरीज ‘मिर्जापुर’ से उन्हें खास पहचान मिली. इस सीरीज में गुड्डू पंडित बनकर उन्होंने घर-घर में अपनी जगह बना ली.

जब गर्लफ्रेंड के लिए नहीं ले गए अंगूठी

Ali Fazal ने पिछले साल ही एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा को अपना हमसफर बनाया. उन्होंने एक इंटरव्यू में ऋचा चड्ढा को प्रपोज करने का तरीका बताया था.

Ali Fazal के मुताबिक, उनके पास इस बारे में कोई प्लान नहीं किया था. जब वह ऋचा चड्ढा को प्रपोज करने गए, तब उनके पास अंगूठी तक नहीं थी. वह सिर्फ इतना जानते थे कि यही सही समय और जगह है.

मन्नत के बाहर करते थे इंतजार

ये क्यूट सा बच्चा है अली फजल. अली फजल आज भले ही फिल्मों का बड़ा नाम हैं. लेकिन एक दौर ऐसा भी था जब उन्हें अपनी पहचान बनाने के लिए बड़ा संघर्ष करना पड़ा था.

एक इंटरव्यू में खुद अली फजल ये खुलासा कर चुके हैं कि संघर्ष के दिनों में वो मुंबई के अलग अलग जगहों के चक्कर काटा करते थे. उस वक्त वो मन्नत के आसपास बहुत घूमा करते थे.

अली फजल के मुताबिक वो बैंड स्टैंड तक जाते थे तो सोचते थे कि मन्नत देख लें और उसके बाद अंदर तक जाने की भी इच्छा हो जाती थी. ये सपना भी फिल्मों में आने के बाद पूरा हो गया.

इस खास प्रोडक्शन में किया काम

अली फजल वंडर वूमेन फेम गैल गैडोट के साथ फिल्म डेथ ऑन द नाइल में काम कर चुके हैं. इसके अलावा जेरार्ड बटलर की कंधार में भी वो दिखे. इन फिल्मों में उनकी एक्टिंग ने पूरी दुनिया को इंप्रेस किया.

क्रिटिक्स भी उनके फैन हो गए. इतना ही नहीं वो न्यूयॉर्क के ऑफ ब्रॉडवे प्रोडक्शन में भी डेब्यू कर चुके हैं. ऐसा करने वाले वो पहले इंडियन सुपर स्टार बने हैं. न्यूयॉर्क के थियेटर प्रेमियों के लिए इस प्रोडक्शन हाउस के जरिए उन्होंने एक प्रायोगिक ड्रामा पेश किया था.

ये भी पढ़ें :

बहुत कम खर्चे में घूमने दिल करें, तो इस जगह मात्र 30 रुपए में भर पेट भोजन और रहना फ्री मिल जाता है

पिंक गाउन में को-स्टार संग बालिका वधु की आनंदी का रोमांटिक पोज, फैंस बोले- हमें जलाओ मत

TAGGED: ,
Share This Article