‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ छोड़कर जा रहे एक्टर्स, असित मोदी बोले- क्या किया जा सकता है…

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ छोड़कर जा रहे एक्टर्स, असित मोदी बोले- क्या किया जा सकता है…

टीवी का पॉपुलर सिटकॉम ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के कई किरदार अलविदा कह चुके हैं. फैन्स भी इस खबर को सुनकर नाराज होते हैं. लेकिन इसपर प्रोड्यूसर असित मोदी ने रिएक्ट करते हुए कहा कि वह कोशिश करते हैं कि कोई स्टार शो को क्विट न करें, लेकिन उनके भी हाथ कई जगह बंधे हुए हैं.

भारतीय टेलीविजन का सबसे लंबे समय तक चलने वाला शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ है. इस सिटकॉम की जबरदस्त फैन फॉलोइंग भी है. शो में मौजूद कर किरदार फैन्स के दिलों में उतर चुका है. इस शो से कई सितारे तो 8-9 साल तक जुड़े रहे. इसके बाद उनके शो को अलविदा करके जाने की खबरें आने लगीं. ज्यादातर सितारों का कहना रहा कि क्रिएटिव टीम संग अनबन एक कारण रहा. कुछ पढ़ाई के चलते शो को क्विट कर गए.

कुछ समय पहले शैलेश लोढ़ा ने शो को छोड़ दिया. खुद का कवि सम्मेलन लेकर आ गए. इसपर काफी कॉन्ट्रोवर्सी भी हुई थी. तरह-तरह की बातें सुनने में आई थीं. हालांकि, अब शो में तारक मेहता का रिप्लेसमेंट हो चुका है. सचिन श्रॉफ यह भूमिका निभाते दिख रहे हैं. नए नट्टू काका भी आ गए हैं. इसके अलावा दयाबेन की वापसी को लेकर भी बज बना हुआ है. साथ ही मिसेस पोपटलाल की भी एंट्री होने वाली है.

पिछले कुछ सालों में शो में काफी उतार-चढ़ाव देखे गए हैं. बदलाव भी देखने को मिले. लेकिन शो के प्रोड्यूसर असित कुमार मोदी ने फैन्स के बीच अपने शो का फ्लेवर बनाए रखा. टीम ने यह सुनिश्चित किया कि ऑडियन्स का मनोरंजन होता रहे. हाल ही में शो से अलविदा करके जाने वाले एक्टर्स पर प्रोड्यूसर ने बात की. एक न्यूज चैनल को उन्होंने बताया कि जब भी कोई एक्टर शो को अलविदा कहकर जाता है तो उनके लिए यह दुखद होता है. जिस तरह ऑडियन्स के लिए होता है.

प्रोड्यूसर ने किया रिएक्ट
असित कुमार मोदी ने कहा कि पिछले 13-14 साल से हम तारक मेहता का उल्टा चश्मा पर काम कर रहे हैं. दिन-रात हम इसके बारे में सोचते हैं. नई स्टोरी आइडिया के साथ हमें आगे आना होता है. प्लॉट बनता है. मेरे लिए पूरी टीम परिवार की तरह है. मुझे बहुत दुख होता है जब भी कोई शो छोड़कर जाता है. हम 15वें साल में एंट्री करने वाले हैं. साथ काम करते आ रहे हैं. हमें एक-दूसरे की आदत सी हो जाती है.

दिन के 12-13 घंटे हम शूट कर रहे होते हैं. पूरा महीना साथ होते हैं. मेरे लिए यह परिवार की तरह है और जब भी कोई अलविदा कहकर जाता है तो दुखद घड़ी होती है. मैं समझाने की कोशिश करता हूं, लेकिन हर किसी की अपनी जिम्मेदारी होती है. समस्या होती है. 13-14 साल इस शो को हो गए हैं, मैं किसी को रोक भी नहीं सकता, अगर कोई फील्ड में कुछ नया करना चाहता भी है तो.

असित मोदी ने आगे कहा कि यह कोई डेली सोप नहीं है. मेरे लिए हर रोज एक टास्क होता है. मैं नहीं चाहता कि कोई शो को अलविदा कहकर जाए, लेकिन मैं क्या कर सकता हूं. मैं आर्टिस्ट को भी ब्लेम नहीं करता. उनकी भी अपनी नीड्स होती हैं, जिन्हें मैं कई बार पूरा नहीं कर पाता हूं. मेरी भी कुछ लिमीटेशन्स होती हैं. लाइफ में बदलाव जरूरी होता है, ऐसे में हम क्या ही कर सकते हैं. हमें इस बात को पॉजिटिवली लेना चाहिए और उन लोगों को भी जो इस शो को अलविदा कह रहे हैं. मेरे पास उन्हें देने के लिए सिर्फ आशीर्वाद और शुभकामनाएं ही हैं.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *