खत्म होने का नाम नहीं ले रहे आमिर खान की मुश्किलें, अब आई दिल तोड़ देने वाली खबर !

खत्म होने का नाम नहीं ले रहे आमिर खान की मुश्किलें, अब आई दिल तोड़ देने वाली खबर !

आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ (Laal Singh Chaddha) को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे. माना जा रहा था कि यह साल की सबसे बड़ी फिल्म बनेगी. लेकिन यह फिल्म पिट गई और अब इस फिल्म को लेकर एक बड़ा अपडेट सामने आ रहा है. रिलीज के बाद से ही ‘लाल सिंह चड्ढा’ ने निराशजनक प्रदर्शन किया. सिर्फ बॉयकॉट कल्चर ने ही नहीं बल्कि अब ओटीटी प्लैटफॉर्म नेटफ्लिक्स ने भी आमिर खान (Aamir Khan) पर दोगुना वार किया है. खबर सामने आ रही है कि नेटफ्लिक्स ने आमिर खान के साथ ‘लाल सिंह चड्ढा’ की डील को कैंसिल कर दिया है.

‘लाल सिंह चड्ढा’ थिएटर्स में अपना जादू नहीं दिखा पाई है. यह फिल्म आमिर खान के करियर के लिए बड़ी डिजास्टर साबित हुई. मीडिया हाउस की रिपोर्ट्स के मुताबिक ‘लाल सिंह चड्ढा’ जब रिलीज नहीं हुई थी तब आमिर खान डिजिटल राइट्स को बेचने के लिए काफी बड़ी रकम की डिमांड कर रहे थे. सूत्रों के मुताबिक ‘आमिर खान नेटफ्लिक्स पर ‘लाल सिंह चड्ढा’ के आने को लेकर बेहद खुश थे. उन्होंने नेटफ्लिक्स से 150 करोड़ रुपए से ज्यादा की डिमांड भी की थी. नेटफ्लिक्स को आमिर खान अपनी पिछली फिल्मों का हवाला दे रहे थे.

सूत्रों की मानें तो आमिर खान ने यह शर्त रखी थी कि’लाल सिंह चड्ढा’ को फिल्म रिलीज के 6 महीने बाद ओटीटी पर लाया जाएगा. नेटफ्लिक्स काफी समय तक आमिर को थिएट्रिकल और ओटीटी रिलीज के बीच के डिफरेंस को कम करने के लिए मनाती रही. इसके अलावा नेटफ्लिक्स आमिर खान को 80 से 90 करोड़ दे रही थी, जिसपर आमिर खान तैयार नहीं थे. काफी माथा पच्ची के बाद नेटफ्लिक्स ने आखिरकार उन्हें 50 करोड़ की डील दी.

आमिर खान अपनी फिल्म को हुए नुकसान की भरपाई के लिए फिल्म को ज्यादा पैसे में बेचने की कोशिश कर रहे हैं. वो नेटफ्लिक्स से 125 करोड़ की मांग कर रहे थे. आमिर खान इस उम्मीद में थे कि फिल्म 300 करोड़ से ज्यादा कमाएगी. इसी उम्मीद के चलते वो डिजिटल प्लेटफॉर्म के लिए इतनी जद्दोजहद नहीं कर रहे थे. उन्हें लगा फिल्म अच्छा परफॉर्म करेगी और ओटीटी प्लेटफॉर्म शर्त मान लेंगे पर ऐसा हुआ नहीं. अब नेटफ्लिक्स ने भी उनकी फिल्म को खरीदने से हाथ खड़े कर दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *