दिल्ली के लिए 14 लेन एक्सप्रेसवे पुरा तैयार. 14 सितम्बर से होगा सफ़र आसान. 25% महँगा होगा दिल्ली मेरठ टोल

दिल्ली के लिए 14 लेन एक्सप्रेसवे पुरा तैयार. 14 सितम्बर से होगा सफ़र आसान. 25% महँगा होगा दिल्ली मेरठ टोल

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर बन रहे अंतिम रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी) का काम लगभग पूरा हो गया है। इसके साथ ही एनएचएआई ने आरओबी को खोलने की तिथि निर्धारित कर दी है। 12 सितंबर को लोड टेस्ट होगा और उसके बाद 14 सितंबर को यातायात के लिए इसे खोल दिया जाएगा।

आरओबी के खुलने के बाद एक्सप्रेसवे पर जाम का झंझट खत्म हो जाएगा। खासकर दिल्ली से मेरठ और हापुड़ की तरफ जाने वाले वाहनों को चिपियाना में जाम से नहीं जूझना पड़ेगा। एनएचएआई अधिकारियों का कहना है कि आरओबी पर साइड का कुछ काम बचा है। उसे सोमवार तक पूरा कर लिया जाएगा। उसके बाद बस लोड टेस्ट होने का इंतजार रहेगा।

Expressway हुआ 14 लेन का नया रूट
एक्सप्रेसवे के पहले दो चरण में सराय काले खां से डासना (गाजियाबाद) तक 14 लेन की सड़क का निर्माण किया गया है। इनमें बीच की छह लेन एक्सप्रेसवे के ट्रैफिक के लिए आरक्षित हैं। उसके बाद दोनों तरफ दो-दो लेन नेशनल हाईवे की हैं और फिर नेशनल हाईवे के दोनों तरफ दो-दो लेन की सर्विस रोड है। अब एक्सप्रेसवे बनने पर चिपियाना में एनएच-24 के दो पुराने आरओबी के साथ ही तीन नए आरओबी बनाए गए हैं। इनमें दो आरओबी पहले से बनकर तैयार हो गए हैं, लेकिन कवि नगर इंडस्ट्रियल क्षेत्र की तरफ बनाए जा रहे आरओबी का काम काफी बड़ा था, जिसके लिए कोंकण रेलवे की भी मदद ली गई।

नए रूट से जाम होगा ख़त्म
इस अंतिम आरओबी को छोड़कर पूरा एक्सप्रेसवे बीते वर्ष अप्रैल में ही बनकर तैयार हो गया था, लेकिन आरओबी के चलते प्रोजेक्ट कंप्लीट नहीं हो पाया था। वहीं, निर्माण के बीच दिल्ली से मेरठ और हापुड़ की तरफ जाने वाले वाहनों को हर रोज जाम से जूझना पड़ रहा है। आरओबी के खुलने से जाम से निजात मिलेगी।

टोल होगा और महँगा
आरओबी खुलने के बाद टोल भी बढ़ेगा। सूत्रों का कहना है कि इस संबंध में प्रस्ताव भेजा जा चुका है। अभी तक आरओबी तैयार न होने के कारण मेरठ में टोल प्लाजा पर नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) 75 फीसदी टोल वसूल रही है लेकिन आरओबी तैयार होने के बाद टोल दरों में 25 फीसदी तक बढ़ोत्तरी होगी। बताया जा रहा है कि टोल दरों को लागू करने में कुछ समय लग सकता है। क्योंकि नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) प्रोजेक्ट कंप्लीट होने का सर्टिफिकेट देगी। उसके बाद मंत्रालय स्तर से प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी।

आरओबी की अहम बातें
कुल वजन-2250 टन
कुल लंबाई-116 मीटर

यूपी गेट के बाद सीधे डासना में निकलेंगे
14 सितंबर को आरओबी खुलने के बाद एक्सप्रेसवे की लेन में यूपी गेट या उसके पीछे से आ रहे वाहन सीधे डासना में ही बाहर निकल पाएंगे। अभी तक चिपियाना में एक्सप्रेसवे की लेन से बाहर निकलने का रास्ता है लेकिन आरओबी तैयार होने पर इसे बंद कर दिया जाएगा।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *